Wednesday, August 14, 2013

एक मीठी आस तेरी


एक सोंधी प्यास तेरी

तेरा सानिध्य
जैसे बसंत में
बौराता आम...
कसमसाता टेसू...
गुलमोहर...!!